धार्मिक कार्यों में इस्तेमाल होने वाली वस्तु बनाकर कमाई करें, जाने क्या है बिजनेस

आज हम आपको एक ऐसे बिजनेस के बारे में बताने वाले हैं। जो धार्मिक कार्य में इस्तेमाल में लिया जाता हैं। आज के बिजनेस में जिस वस्तु का प्रोडक्सन करना हैं। वह भगवान की प्रिय वस्तु भी मानी जाती हैं और इस वस्तु के बीना भगवान के पूजा पाठ अधूरे हैं। यानी हम सभी लोग इस वस्तु का यूज करते हैं। इसलिए मांग खूब जबरदस्त हैं।
इस बिजनेस में निवेश कम होगा और छोटी से जगह से भी आप इस बिजनेस को शुरू कर सकते हैं। अगर शोर्ट में कहा जाए तो आज का बिजनेस करके आप कमाई के साथ साथ भगवान को भी प्रसन्न करने वाले हो।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

कम निवेश ज्यादा फायदा, छोटी सी मशीन लगाये, दिन की कमाई 5000 रूपये

कितना प्रॉफिट होगा


हम जिस बिजनेस के बारे में बात करने वाले हैं। इस बिजनेस में आपको 20 से 30 फीसदी तक का प्रॉफिट हो सकता हैं। अगर देखा जाए तो आज के समय में किसी भी बिजनेस से इतना प्रॉफिट लेना एक अच्छी बात मानी जाती हैं। अगर आप महीने का 10 लाख का बिजनेस भी कर लेते हैं। तो आपको 2 से 3 लाख का प्रॉफिट आसानी से जनरेट हो सकता हैं।

कितना निवेश होगा


इस बिजनेस में कमाई अच्छी हैं। लेकिन निवेश काफी कम हैं और यही इस बिजनेस की एक सबसे बड़ी बात मानी जाती हैं। अगर आप यह बिजनेस करते हैं। तो आपको 50 हजार से लेकर 1 लाख रूपये तक का निवेश करना होगा। इससे ज्यादा निवेश करने की जरूरत भी नहीं पड़ेगी।

कौनसा बिजनेस है


आज हम जिस बिजनेस के बारे में बात करने वाले हैं। वह Carnphor Tablet का बिजनेस हैं। यानी की कपूर की टैबलेट का गोटी बनाने का बिजनेस है। जैसे की आप सभी लोग जानते ही है की कपूर की टैबलेट का उपयोग धार्मिक काम में होता हैं और इस वस्तु की मांग कभी भी खत्म नही होगी।
कोई भी धार्मिक कार्य में कपूर का यूज होता हैं। इसके अलावा भी अन्य कार्यो में भी काफी लोग कपूर की गोटी का यूज करते हैं। इस बिजनेस में आपको Carnphor Tablet बनाना और बेचना हैं। यह एक प्रोफिटेबल बिजनेस हो सकता हैं।

क्या क्या मशीनरी और सामग्री लगती है


कपूर टैबलेट बनाने की मशीन: यह एक मशीन है जो कपूर पाउडर को टैबलेट में बदलती है।
पैकेजिंग मशीन: यह एक मशीन है जो आपके कपूर टैबलेट को प्लास्टिक की बोतलों या डिब्बे में पैक करती है।
कपूर पाउडर: यह कपूर टैबलेट बनाने का मुख्य कच्चा माल है। आप इसे ऑनलाइन या ऑफलाइन स्टोर से खरीद सकते हैं।


बाइंडर: यह एक पदार्थ है जो कपूर टैबलेट को एक साथ रखने में मदद करता है। आम तौर पर इस्तेमाल किए जाने वाले बाइंडर में स्टार्च, जिलेटिन और गम शामिल हैं।
लुब्रिकेंट: यह एक पदार्थ है जो कपूर टैबलेट को मशीन से आसानी से बाहर निकलने में मदद करता है। आम तौर पर इस्तेमाल किए जाने वाले लुब्रिकेंट में मैग्नीशियम स्टीयरेट और टैल्क शामिल हैं।
पैकेजिंग सामग्री: कपूर टैबलेट को पैक करने के लिए प्लास्टिक की बोतलें या डिब्बे की आवश्यकता होगी।
लेबल: कपूर टैबलेट के लिए लेबल की आवश्यकता होगी जिसमें प्रोडक्ट का नाम, सामग्री आदि होगा।
रंग: कपूर टैबलेट को अधिक आकर्षक बनाने के लिए रंगों का उपयोग कर सकते हैं।
सुगंध:कपूर टैबलेट को अधिक सुगंधित बनाने के लिए सुगंध का उपयोग कर सकते हैं।

बिजनेस करने के लिए उपरोक्त सभी सामान की जरूरत पड़ेगी। आप इन सभी सामान को एक छोटी जगह पर सेटअप करके भी अपने बिजनेस को शुरू कर सकते हैं।

फंडिंग


इस बिजनेस को करने के लिए अगर किसी पास पूंजी की व्यवस्था नही हैं। तो बिजनेस लोन लेकर भी बिजनेस को शुरू किया जा सकता है।

Leave a Comment